Breaking News :

हमने किसानों के लिए 16 लाख करोड़ से अधिक का आवंटन किया है : तोमर

सिरमौर के 78 युवाओं को मिला रोजगार, जिला रोजगार कार्यालय ने आयोजित किया परिसर साक्षात्कार

आदर्श विद्यालय संगड़ाह के पर्यटन विषय के छात्रों द्वारा मुख्य बाजार में सर्वेक्षण किया

पूर्व CM वीरभद्र सिंह की 89वीं जयंती पर कांग्रेसियों ने आर्पित किए श्रद्धासुमन

सिरमौर : देवदार के 114 पेड़ों के कटान पर Police Station में FIR दर्ज,संबंधित Forest Guard को किया निलंबित

शिरगुल महाराज मंदिर खरोटियों मे खुनेवड़़ रस्म के साक्षी बने सैंकड़ो क्षेत्रवासी, मंदिर के पुनर्निर्माण के बाद हुआ शांत यज्ञ,Traditional वाद्ययंत्रों की ताल पर श्रदालुओं ने किया शिरगुल देवता का जयघोष

पांवटा साहिब : कंडेला पंचायत की भूमिहीन विधवा महिला की गुहार, संपन्न परिवारों को बीपीएल से काटकर पीड़िता को बीपीएल में परिवार दर्ज किया जाए ।

सिरमौर के युवाओं को अब लुधियाना और मोहाली केंद्रों में मिलेगा निःशुल्क एडवांस कोर्स का प्रशिक्षण,

सिरमौर के युवा 24 जून से वायु सेना में अग्निवीर बनने के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

पांवटा साहिब: आयुष विभाग ने लोगों को मन और स्वस्थ शरीर के लिए प्रतिदिन योग करने का सन्देश दिया

June 26, 2022

प्रदेश के प्राथमिक स्कूलों में अब निपुण एप से विद्यार्थियों के मौखिक कौशल की देखरेख होगी

News portals-सबकी खबर (शिमला )

हिमाचल प्रदेश के प्राथमिक स्कूलों में अब निपुण एप से विद्यार्थियों के मौखिक कौशल की देखरेख होगी। इस एप के जरिये यह पता चल पाएगा कि एक मिनट में विद्यार्थी कितने शब्द पढ़ पा रहे हैं। अगर विद्यार्थी कम शब्द पढ़ रहे हैं तो शिक्षक और ज्यादा मेहनत विद्यार्थियों के मौखिक कौशल के लिए करेंगे। अगले दो हफ्ते में यह एप तैयार हो जाएगा।इस एप में जहां हिंदी भाषा के लिए सामग्री होगी वहीं, दूसरी तरफ गणित विषय के लिए मौखिक सवाल होंगे। इससे दोनों विषयों में आसानी से शिक्षक मॉनीटरिंग कर पाएंगे। इसी क्रम में चंबा जिले के 1,196 प्राथमिक पाठशालाओं में यह अभियान चल रहा है। अलग-अलग गतिविधियों से विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है। इसमें खेल-खेल में विद्यार्थियों को पढ़ाने की विधि का भी प्रयोग किया जा रहा है। केंद्र सरकार ने गणित और हिंदी विषय में विद्यार्थियों की पकड़ मजबूत करने के लिए निपुण भारत अभियान चलाया है। इसमें प्रदेश भर के प्राथमिक स्कूलों में पहली, दूसरी और तीसरी कक्षा में अध्ययनरत विद्यार्थियों को शिक्षक पढ़ा रहे हैं।हर कक्षा के लिए अलग लक्ष्य है निर्धारित-निपुण भारत अभियान में पहली से लेकर तीसरी कक्षा तक अलग-अलग लक्ष्य निर्धारित किए हैं। इसमें मौखिक, पढ़ना और लिखना शामिल है। साथ ही रेडिमेड पठन पाठन सामग्री का भी प्रयोग भी किया जा रहा है।  समग्र शिक्षा के जिला परियोजना अधिकारी राजेश शर्मा ने बताया कि निपुण भारत अभियान के लिए निदेशालय स्तर पर एप तैयार किया जा रहा है। इससे विद्यार्थियों की प्रगति रिपोर्ट आसानी से शिक्षकों को पता लगेगी और अध्यापक उस कमी को दूर कर सकेंगे।

Read Previous

शातिरों ने पेपर लीक करने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व अन्य तकनीक का इस्तेमाल कियामामले में एसआईटी की जांच में कई अहम खुलासे हुए,

Read Next

श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली पलटी ,तीन श्रद्धालुओं की मौत, 6 घायल