Breaking News :

मौसम विभाग का पूर्वानुमान,18 से करवट लेगा अंबर

हमारी सरकार मजबूत, खुद संशय में कांग्रेस : बिंदल

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद 7.85 करोड़ रुपये की जब्ती

16 दिन बाद उत्तराखंड के त्यूणी के पास मिली लापता जागर सिंह की Deadbody

कांग्रेस को हार का डर, नहीं कर रहे निर्दलियों इस्तीफे मंजूर : हंस राज

राज्यपाल ने डॉ. किरण चड्ढा द्वारा लिखित ‘डलहौजी थू्र माई आइज’ पुस्तक का विमोचन किया

सिरमौर जिला में स्वीप गतिविधियां पकड़ने लगी हैं जोर

प्रदेश में निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निवार्चन के लिए तैयारियां पूर्ण: प्रबोध सक्सेना

डिजिटल प्रौद्योगिकी एवं गवर्नेंस ने किया ओएनडीसी पर क्षमता निर्माण कार्यशाला का आयोजन

इंदू वर्मा ने दल बल के साथ ज्वाइन की भाजपा, बिंदल ने पहनाया पटका

May 22, 2024

देवी-देवताओं की भूमि में मानवता और मां की ममता हुई शर्मसार ,तड़पती दो जुड़वा बच्चियां खड्ड में छोड़ी, दोनों की मौत पर विवाहिता गिरफ्तार

News portals-सबकी खबर  (मंडी )

हिमाचल प्रदेश देवी-देवताओं की भूमि में मानवता और मां की ममता शर्मसार हुई है। यहां एक मां ने ही अपनी दो जुड़वा बेटियों को मरने के लिए सकोड़ी पुल के नीचे छोड़ दिया, जिससे बच्चियों की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। रविवार को जैसे ही लोगों ने पुल के नीचे दो बच्चियों के शव देखे तो शहर में हड़कंप मच गया। हालांकि मंडी पुलिस ने तीन घंटों में यह सारा मामला सुलझा लिया और आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया। दोनों बच्चों की उम्र दो से तीन महीने की बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि अपने प्रेमी के संग लगभग एक साल पहले पंजाब भागी महिला ने वापस अपने पति के घर शरण पाने के लिए यह खौफनाक कदम उठाया। 35 वर्षीय सुहड़ा मोहल्ला निवासी विवाहिता को डर था कि अगर मैं दो बेटियां साथ लेकर अपने पति के पास जाऊंगी, तो शायद उसे वापिस न अपनाया जाए।

यही नहीं, विवाहिता ने ससुराल जाने पर भी दबाव बनाया कि उसे अपना लिया जाए वरना वह आत्महत्या करके सबको फंसा देगी। फिलहाल मंडी पुलिस ने बच्चियों के शवों का पोस्टमार्टम करवा दिया है। रिपोर्ट आने के बाद मौत के सही कारणों का खुलासा होगा, लेकिन अब तक की जांच में यह बात सामने आई है कि महिला ने शुक्रवार या शनिवार को पंजाब से वापस आकर जिंदा बच्चियों को ही पुल के नीचे मरने के लिए छोड़ दिया था। मंडी पुलिस ने विवाहिता के खिलाफ आईपीसी की धारा-304 नंबर 317 में मामला दर्ज कर लिया है।

आज कोर्ट में पेश की जाएगी महिला

स्थानीय निवासी पंकज कुमार रविवार सुबह अपनी ड्यूटी से छुट्टी कर घर जा रहे थे, तो उनकी नजर पुल के पास फंसे इन बच्चों पर पड़ी। उन्होंने पहले इनको टेडी समझा, लेकिन जब नजदीक जाकर देखा तो ये बच्चे थे। दोनों को अच्छे कपड़े पहनाए हुए थे। नगर निगम की पार्षद नेहा ने बताया कि सूचना मिलते ही वह भी मौके पर पहुंची तो देखा कि एक बच्चा मुंह के बल पानी में गिरा था और दूसरे का मुंह ऊपर की ओर था। इसके बाद मौके पर पहुंचे सिटी पुलिस चौकी इंचार्ज और सदर थाना प्रभारी के नेतृत्व में पहुंची टीम ने बच्चों के शवों को कब्जे में लिया। रविवार सुबह जैसे ही इस बात की खबर फैली तो सकोडी पुल पर लोगों का जमघट लग गया। शवों को छोटे बॉक्सों में बंद करके पोस्टमार्टम के लिए नेरचौक मेडिकल कालेज ले गई। एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि पुलिस ने विवाहिता को गिरफ्तार किया है। ।

जिंदा बच्चियों की किसी को भी नहीं सुनाई दी आवाज

मंडी पुलिस ने विवाहिता के खिलाफ फिलहाल हत्या का मामला दर्ज नहीं किया है, लेकिन सवाल उठ रहे हैं कि अगर महिला ने अपनी दोनों जुड़वा बेटियों को जिंदा ही पुल के नीचे छोड़ दिया था उनके रोने चिल्लाने की आवाज क्यों किसी को सुनाई नहीं दी। न ही किसी भी जानवर ने बच्चियों के शवों को नुकसान पहुंचाया। इसके अलावा इस मामले में क्या और लोग भी शामिल हैं, इसे लेकर भी पुलिस जांच कर रही है।

महिला का प्रेमी तलब, सीसीटीवी से खुलेगा राज

लगभग एक साल पहले प्रेमी के साथ फरार हुई विवाहिता के प्रेमी को भी मंडी पुलिस ने तलब कर लिया है। प्रेमी के बयानों के बाद भी मामले से कई पर्दे उठेंगे। इसके साथ ही मंडी पुलिस सकोड़ी पुल, बस स्टैड व सुहड़ा मोहल्ले की सीसीटीवी फुटेज को भी खंगालने में लगी है। इससे पता चल सकेगा कि महिला ने कब अपने बच्चों को पुल के नीचे छोड़ा।

Read Previous

कफोटा को उपमंडल का दर्जा मिलने के बाद गाँधी जयंती मेला बड़े स्तर पर कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा-नरेश तोमर

Read Next

दो बच्चों की मां के साथ उसके फेसबुक फ्रेड ने किया दुष्कर्म

One Comment

  • Sakt se sakat sazza do isko pgl aurat

Comments are closed.

error: Content is protected !!