Breaking News :

मौसम विभाग का पूर्वानुमान,18 से करवट लेगा अंबर

हमारी सरकार मजबूत, खुद संशय में कांग्रेस : बिंदल

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद 7.85 करोड़ रुपये की जब्ती

16 दिन बाद उत्तराखंड के त्यूणी के पास मिली लापता जागर सिंह की Deadbody

कांग्रेस को हार का डर, नहीं कर रहे निर्दलियों इस्तीफे मंजूर : हंस राज

राज्यपाल ने डॉ. किरण चड्ढा द्वारा लिखित ‘डलहौजी थू्र माई आइज’ पुस्तक का विमोचन किया

सिरमौर जिला में स्वीप गतिविधियां पकड़ने लगी हैं जोर

प्रदेश में निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निवार्चन के लिए तैयारियां पूर्ण: प्रबोध सक्सेना

डिजिटल प्रौद्योगिकी एवं गवर्नेंस ने किया ओएनडीसी पर क्षमता निर्माण कार्यशाला का आयोजन

इंदू वर्मा ने दल बल के साथ ज्वाइन की भाजपा, बिंदल ने पहनाया पटका

June 18, 2024

डिजिटल प्रौद्योगिकी एवं गवर्नेंस ने किया ओएनडीसी पर क्षमता निर्माण कार्यशाला का आयोजन

News portals-सबकी खबर (शिमला ) सचिव डिजिटल प्रौद्योगिकी एवं गवर्नेंस डॉ. अभिषेक जैन ने आज यहां डिजिटल प्रौद्योगिकी एवं शासन विभाग द्वारा ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (ओएनडीसी) प्लेफॉर्म पर आयोजित क्षमता निर्माण कार्यशाला की अध्यक्षता की। ओएनडीसी की उपाध्यक्ष अदिति सिंघा ने ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स की कार्यप्रणाली, उद्देश्य व लाभ पर प्रकाश डालते हुए एक व्यावहारिक प्रस्तुति दी। ओएनडीसी, भारत सरकार के उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग द्वारा स्थापित एक गैर-लाभकारी कंपनी है, जिसका उद्देश्य खुले ई-कॉमर्स मंचों को बढ़ावा देना है। कार्यशाला में बल दिया गया कि किस तरह से ओएनडीसी की कार्यप्रणाली और सरकारी विभाग ऑन बोर्डिंग प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाया जा सकता है।डॉ. अभिषेक जैन ने कार्यशाला में अधिकारियों और कर्मचारियों से हिमाचल प्रदेश में स्थानीय उत्पादों की अप्रयुक्त क्षमता पर बल देते हुए ई-कॉमर्स मंचों का उपयोग करने का आग्रह किया। उन्होंने स्थानीय उत्पादों को प्रभावी रूप से बाजार में उतारने और उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण सेवाएं प्रदान करने के लिए सही मंच प्रदान करने के महत्व पर बल दिया। उन्होंने ओएनडीसी जैसे ई-कॉमर्स मंचों को व्यापक रूप से बढ़ावा देने का भी आह्वान किया।
सचिव ग्रामीण विकास और पंचायती राज प्रियतु मंडल ने कहा कि इस प्लेटफार्म से विक्रेताओं को बड़े बाजार के प्रतियोगियों के साथ प्रतिस्पर्धा करने का समान अवसर मिलेगा और खरीदारों को एक ही बार में विभिन्न उत्पादों की खरीदारी का अनुभव प्राप्त होगा।
डिजिटल प्रौद्योगिकी एवं गवर्नेंस के निदेशक डॉ. निपुण जिंदल ने कार्यशाला के महत्व पर प्रकाश डाला और कहा कि यह कार्यशाला प्रदेश में इस प्रकार की पहली कार्यशाला है। कार्यशाला में निदेशक ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, प्रबन्ध निदेशक कौशल विकास निगम सहित कई अन्य विभागों के विभागाध्यक्ष इस अवसर पर उपस्थित थे।

Read Previous

इंदू वर्मा ने दल बल के साथ ज्वाइन की भाजपा, बिंदल ने पहनाया पटका

Read Next

NH-707 में NHI प्राधिकरण व सड़क निर्माण कम्पनी ने मिलकर भ्रष्टाचार करने का ढूंढा नायाब तरीका

error: Content is protected !!