Breaking News :

शरारती तत्वों ने 4 लाख की लागत से बने सार्वजनिक शौचालय को तोड़ा

डिग्री कॉलेज की सुरक्षा दीवार के लिए 4 लाख स्वीकृत

कुल्लू : एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और बेटे की हत्या, हत्यारे को पुलिस ने किया मौके गिरफ्तार

26 जनवरी को चौगान मैदान नाहन में राकेश पठानिया लेंगे परेड़ की सलामी

पुलिस ने दो युवकों से पकड़ी पांच किलो 161 ग्राम चरस

प्रदेश में 31 जनवरी तक शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे

सिरमौर : अनोखी शादी -भारी बर्फबारी में जेसीबी में ले जानी पड़ी बारात

जिला सिरमौर में 31 जनवरी प्रातः 6 बजे तक जारी रहेगी पाबंदियां

भाजपा पदाधिकारी, सांसद , मंत्री एवं विधायक माइक्रो डोनेशन के कार्यक्रम को जनांदोलन के रूप में चलाए : कश्यप

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा नए वेतनमान जारी करने की अधिसूचना से हिमाचल प्रदेश के कर्मचारी खुश हैं – डॉ मामराज पुंडीर

January 25, 2022

सांगना पंचायत ने लिया प्रधान व उपप्रधान निर्विरोध चुने जाने का निर्णय

News portals-सबकी खबर (संगड़ाह)

प्रदेश में पंचायती राज चुनाव का बिगुल बजने के बाद विकास खंड संगड़ाह व सिरमौर जिला में पंचायत प्रतिनिधियों के निर्विरोध चुने जाने का दौर भी शुरू हो चुका है। अब तक सिरमौर में करीब आधा दर्जन पंचायतें निर्विरोध चुनी जा चुकी है, जिनमें विकास खंड संगड़ाह की तीन पंचायतें भी शामिल है। उपमंडल संगड़ाह की सांगना पंचायत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब पंचायत निर्विरोध चुनी गई हो।

अहम बात यह है कि, रविवार को इस बारे हुई बैठक में किसी प्रकार की कोई पर्चियां नहीं डाली गई और न ही किसी तरह के कोई मापदंड या शर्तें रखी गई थी। पंचायत के लोगों ने शिरगुल देवता मंदिर के प्रांगण में बैठकर सर्वसम्मति से प्रधान, उपप्रधान व वार्ड मेंबर को चुनने का फैसला लिया। पंचायत में सर्वसम्मति से रीना देवी को प्रधान चुना गया, जबकि संतराम को उपप्रधान का पद सौंपा गया। वहीं वार्ड सदस्य के तौर पर रतीराम, बहादुर सिंह, सीमा देवी, जगदीश, मधुबाला, रामदेई व मथुरा देवी पर सहमित बनी। स्थानीय निवासियों ने बताया कि, सहमति से हर पद का फैसला लिया गया है।

क्षेत्र में पंचायत को निर्विरोध चुने जाने के बाद इलाके में जश्न का माहौल है, क्योंकि ऐसा पहली बार हुआ है जब पंचायत निर्विरोध चुनी गई हो। पंचायत के मौजूदा प्रधान देवेंद्र ठाकुर ने कहा कि ये बेहद ही ख़ुशी की बात है कि पंचायत को सर्वसम्मति से बना लिया गया है। इससे पूर्व विकास खंड संगड़ाह की छोऊ-भोगर व लाना-पालर पंचायतों के ग्रामीणों द्वारा भी ऐसा निर्णय लिया जा चुका है, हालांकि अभी नामांकन भरने की आखिरी तारीख में काफी समय शेष है। बहराल सांगना सताहन पंचायत निर्विरोध चुने जाने पर  सरकार द्वारा इनाम की हकदार बन गई है।

Read Previous

प्रदेश सरकार के 3 साल पूरे होने पर संगड़ाह में वर्चुअल रैली,सभी मंडल पदाधिकारी रहे मौजूद

Read Next

पहाड़ी कालोनी में 21 वर्षीय युवती ने फंदा लगा कर की आत्महत्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *