Breaking News :

सीएम ने मांगी तीन दिनों के भीतर मामले की रिपोर्ट, जो भी दोषी होगा उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी

कोरोना काल मे स्वास्थ्य खंड संगड़ाह में फार्मासिस्ट व डॉक्टर के भी आधे पद खाली

सिरमौर में आज 18 से 44 आयु वर्ग के 9296 लोगों को लगी वैक्सीन

डॉ परुथी के कार्यकाल के दौरान बनाई गई 25000 पालीब्रिक्स

सिरमौर के किसान 15 जुलाई तक मक्की व धान की फसलों का करवा सकेंगे बीमा

ब्रेकिंग : एयरपोर्ट के बाहर एसपी कुल्लू ने सीएम सिक्योरिटी के एएसपी रैंक के अधिकारी को जड़ तमाचा

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के जन्मदिन पर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पांवटा ने किया हवन यज्ञ

गिरिखण्ड पत्रकार परिषद सदस्यों ने जनसम्पर्क विभाग के संपादक रणजीत सिंह राणा के देहांत पर शोक व्यक्त किया

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किए 64 करोड़ रुपए के उद्घाटन व शिलान्यास

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के जन्मदिन पर कस्बे मे बांटे मास्क

June 23, 2021

लोग भीड़ जुटाकर खुद ही बुला रहे बीमारी

News portals-सबकी खबर (कांगड़ा )

प्रदेश और देश में कोरोना की दूसरी लहर ने लोगों की नींद उड़ा दी  है। फिलहाल इस महामारी से बचने का एक ही उपाय है और वह है वैक्सीन। लोग भी टीका लगवाने को आगे आ रहे हैं, लेकिन वैक्सीन उपलब्ध न होने से उन्हें घंटों इंतजार के बाद भी वापस लौटना पड़ रहा है। दूसरी ओर वैक्सीनेशन लगाने पहुंच रहे लोग कोरोना नियमों को भी ताक पर रख रहे हैं। गुरुवार को ऐसा नजारा जिला कांगड़ा के कई वैक्सीनेशन सेंटर्ज पर देखने को मिला। कुछ जगह तो प्रशासन को मौके पर पहुंच कर लोगों का समझाना पड़ा।

बता दे कि नगरोटा सूरियां में कोविड-19 के वैक्सीन इंजेक्शन लगवाने के लिए उमड़ी भीड़ ने सोशल डिस्टेंसिंग की खूब धज्जियां उड़ाईं। सुबह दस बजे तक कोई भी कर्मचारी इंजेक्शन लगाने के लिए नहीं पहुंचा।  भीड़ इतनी थी कि नायब तहसीलदार और पुलिस चौकी प्रभारी भी एक बार आकर वापस चले गए, लेकिन लोग किसी की बात नहीं मान रहे थे। लोगों का कहना है कि पिछले दो दिन से वैक्सीन खत्म थी और जब गुरुवार को लोग विभिन्न पंचायतों से सुबह पहुंचे, तो इतनी भारी संख्या में लोग टीका लगवाने के लिए पहुंच गए कि पुलिस व प्रशासन को कंट्रोल करना मुश्किल हो गया।

इसके अलावा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रे में गुरुवार को वैक्सीन कार्यक्रम का आयोजन हुआ। अस्पताल में वैक्सीन लगवाने वाले लोगों का तांता प्रातः लगभग आठ बजे ही शुरू हो गया। अस्पताल के परिसर में काफी भीड़ जुटी थी। अस्पताल में वैक्सीन लगवाने के लिए आए लोगों ने अपने-अपने वाहन जगीर-बडूखर रोड के किनारे खड़े कर दिए, जिसके चलते जाम की स्थिति बन गई। दूसरी ओर अस्पताल परिसर में जुटी हुई भीड़ ने सोशल डिस्टेंसिंग खूब धज्जियां उड़ाई गईं। रे अस्पताल में वैक्सीन लेट आने पर लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

उधर, गुरुवार को ऐसा ही नजारा सिविल अस्पताल जवाली व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चलवाड़ा में देखने को मिला। गुरुवार को सिविल अस्पताल जवाली तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चलवाड़ा में वैक्सिनेशन  कैंप लगाया गया, तो एकदम से लोगों का हुजूम वैक्सीन लगवाने के लिए उमड़ पड़ा। भीड़ को कंट्रोल न होते देख सिविल अस्पताल जवाली व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चलवाड़ा के स्टाफ  को पुलिस की सहायता लेनी पड़ी। स्टाफ ने पुलिस थाना जवाली में सूचना देकर पुलिस कर्मी बुलाए।

Read Previous

कोविड वार्ड में मरीजों की देखभाल के दौरान कोताही बरती तो अस्पतालों के मुखियाओं पर होगी कार्रवाई

Read Next

प्रदेश सरकार ने हिमकेयर और आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी कोविड-19 रोगियों को निःशुल्क उपचार का निर्णय सराहनीय – बलदेव तोमर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *