Breaking News :

यंहा एक युवक से पुलिस ने किया चरस बरामद और यंहा एक युवक ने लगाया फंदा

यंहा फिरआए 2 लोग कोरोना पॉजिटिव,21 आरटीपीसीआर सैंपल की रिपोर्ट आना शेष

चाइल्ड हेल्प लाइन द्वारा गांव शादड़ में बच्चों को कोरोना वायरस से बचाव के उपायों के प्रति जागरूक

शनिवार को 24 वर्षीय युवक का शव आस्था स्थल रेणुकाजी झील से किया बरामद

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में 21 अप्रैल तक ऑनलाइन रिवीजन जारी रहेगी

शिलाई में चीड़ के जंगल में आधा दर्जन काले कौवा पक्षी के शव मिलने से सनसनी

लेह-मनाली मार्ग दारचा से आगे बंद

22 वर्षीय युवती की हत्या के मामले में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने निकाला कैंडल मार्च

गृहस्थ आश्रम त्याग कर सन्यास आश्रम में आया विकास दुबे नहीं रख पाया दिल पर काबू ,ली युवती की जान

आखिर प्रदेश में स्कूल ही क्यों बंद कर रही सरकार ,स्कूलों में कोरोना, चुनावी रैलियों में नहीं

April 10, 2021

मोदी सरकार ने जल जीवन मिशन के अंतर्गत 4 करोड़ घरों तक पेयजल पहुँचाया:अनुराग ठाकुर

News portals-सबकी खबर (शिमला )

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने देशवासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत 4 करोड़ घरों के लाभान्वित पर इसे पेयजल उपलब्धता की दिशा में एक बड़ी उपलब्धि बताया है।

अनुराग ठाकुर ने कहा “प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त, 2019 को लाल किले के प्राचीर से जल जीवन मिशन कार्यक्रम की घोषणा की थी जिसमें उन्होंने मिशन के तहत 2024 तक हर घर में पाइप के द्वारा पानी पहुंचाने का लक्ष्य तय किया था।मोदी सरकार के दृढ़ निश्चय व नीतियों के सम्यक् क्रियान्वयन से इस जल जीवन मिशन के तहत 4 करोड़ से अधिक ग्रामीण घरों में नल से जल पहुंचा कर नया कीर्तिमान बनाया है। वित्त वर्ष 2020-21 में जल जीवन मिशन के लिए कुल 23,500 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया था। हिमाचल प्रदेश में जल जीवन मिशन के लिए 688.63 करोड़ रुपए का प्रावधान इस बजट में किया गया है”


अनुराग ठाकुर ने कहा “बजट 2021-22 में मोदी सरकार ने जल जीवन मिशन-शहरी को शुरू करने की घोषणा की जिसका लक्ष्य एक सर्वव्यापी जलापूर्ति योजना के तहत 4,378 शहरी स्थानीय निकायों के 2.86 करोड़ घरों में नल के ज़रिए पीने का साफ़ पानी उपलब्ध कराना है। नल कनेक्शन के अलावा इस नई योजना का ज़ोर 500 अमृत शहरों में तरल अपशिष्टों के प्रबंधन पर भी है। यह मिशन पांच वर्ष तक चलेगा जिसके लिए 287,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इससे वाटर सप्लाई सिस्टम के लिए बेहतर योजना बनाने, कार्यान्वयन, प्रबंधन, परिचालन और रखरखाव में सहायता मिलेगी”

आगे बोलते हुए श्री अनुराग ठाकुर ने कहा “मोदी सरकार के अथक प्रयासों व नीतियों के सम्यक् क्रियान्वयन से अबतक कुल 7.24 करोड़ (37.78%) ग्रामीण परिवारों को नल से शुद्ध जल मिल रहा है। मोदी जी के नेतृत्व में हम जल्द ही तय लक्ष्यों को प्राप्त करने में सफल होंगे”

Read Previous

हिमाचल के पूर्व मंत्री मोहनलाल का निधन

Read Next

ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालो से पुलिस ने 342 चालान काटकर 1.10 लाख रुपये जुर्माना वसूला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!